v क्यों google ने अपने 13 सीनियर अधिकारी समेत 48 लोगो को नौकरी से निकाल दिया ? | Stillunfold

क्यों google ने अपने 13 सीनियर अधिकारी समेत 48 लोगो को नौकरी से निकाल दिया ?

गूगल ने गुरुवार को एक मेल के माध्यम से अपने उन कर्...

2 years ago
क्यों google ने अपने 13 सीनियर अधिकारी समेत 48 लोगो को नौकरी से निकाल दिया ?

गूगल ने गुरुवार को एक मेल के माध्यम से अपने उन कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया जिन पर यौन उत्पीड़न के आरोप थे। निकाले गए 48 कर्मचारियों में 13 कम्पनी के वरिष्ठ अधिकारी थे। यह बयान Google के CEO सूंदर पिचई ने न्यूयॉर्क टाइम्स की एक खबर का खंडन करते हुए कहा कि बिना किसी बड़े हुए पैकेज के साथ हमने इन कर्मचारियों को निकल दिया है। ये पूरा घटनाकर्म पूरे विश्व के अलग अलग देशों में चल रहे #MeToo मूवमेंट के कारण सामने आया जो हाल ही में भारत में भी चर्चा में आया है।

क्या है #MeToo मूवमेंट 

पुरे विश्व में ##MeToo मूवमेंट की चर्चा चल रही है। दरअसल इस मूवमेंट के तहत पूरे विश्व में यौन उत्पीड़न की शिकार महिलाओ द्वारा अपने साथ हुए उत्पीड़न खिलाफ आवाज़ उठाई जा रही है और इसे पूरी दुनिया में समर्थन मिल रहा है। इसकी शुरुआत 2006 में “तराना बर्क” ने की थी। तराना ने एक साक्षात्कार में बताया की बचपन से लेकर बड़े होने तक तीन बार उन्हें यौन शोषण का सामना करना पड़ा था।

क्या है पूरा मामला?

अमरिकी समाचार पत्र न्यूयॉर्क टाइम्स में सम्पादित खबर के अनुसार गूगल के वरिष्ठ कर्मचारी एंडी रुबिन जो गूगल में एंड्रॉइड निर्माण विभाग में कार्य करते है पर यौन उत्पीड़न सम्बंधित आरोप लगा और इस आरोप के लगने के बाद मिडिया में ऐसी खबर आई की 9 करोड़ डॉलर का पैकज देकर एंडी रुबिन को नौकरी से निकला गया, साथ ही यौन उत्पीड़न के आरोपों को भी छुपाने की भी कोशिश की है।

इस उपरोक्त विषय पर गूगल के सीईओ ने अब अपना बयान जारी किया है और कहा कि यौन शोषण का आरोप झेल रहे सभी 48 कर्मचारियों को बिना की “Exit Package” के कंपनी से तत्काल निष्कासित कर दिया गया है।

सीईओ सूंदर पिचई ने इस बाबत कहा कि “हमने पिछले कई वर्षो में बदलाव किये है, जिनमे कई बड़े आधिकारिक पद पर कार्यरत कर्मचारियों द्वारा अनुचित व्यवहार को लेकर सख्त कार्यवाही करना भी शामिल है।“ उन्होने यह भी कहा कि “हम कंपनी में भयरहित, सुरक्षित और सबके लिए उपयुक्त कार्य स्थल उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबंधित है। यौन शोषण सबंधित सभी शिकायतों का अवलोकन करके जाँच करवाते है, एवं उचित कार्यवाही करते है।”

Comment